हमके गोकुल व बरसाना ब्रज चाही लिरिक्स Hamke Gokul V Barsana Braj Chahi Lyrics

हमके गोकुल व बरसाना ब्रज चाही



हमके गोकुल व बरसाना ब्रज चाही,
जउने भुइयाँ में लोटेन उस रज चाही,
हमके दयालु दया बस तोहार चाही,
मन में सत्संग कीर्तन और प्यार चाही.....

जब चरण ग्राह धई के पछारे रहा,
कृष्ण गोविन्द कही के कहि गज पुकारे रहा,
सारी ताकत लगा हो बिबस हारे रहा,
त्यागि सबके जब तोहरे सहारे रहा,
नाथ गजराज वाली समझ चाही.....

जो प्रभो नारि गौतम को तारे रहा,
सुर नर मुनि नाग किन्नर को प्यारे रहा,
राजा मिथिला की बगिया पधारे रहा,
जे के मलि मलि के केवट पखारे रहा,
उहीं कोमल चरणवा क रज चाही.....

जेहि के कृपा कोर से भव की फांसी छूटई,
जेहिं के बल तन तजे प्राण कशी छुटई,
भक्त जन की है चिंता उदासी छूटई,
राम इस दाद की भव फांसी छूटई,
ऐसी अर्जी अदालत और जज चाही......



श्रेणी : कृष्ण भजन



हमके गोकुल बरसाना ब्रज चाही | Hamke Gokul Barsana Braj Chahi | New Bhojpuri Krishna Bhajan

हमके गोकुल व बरसाना ब्रज चाही लिरिक्स Hamke Gokul V Barsana Braj Chahi Lyrics, Krishna Bhajan, by Singer: Dinesh Mishra Ji


Bhajan Tags: Lyrics in Hindi, Lyrics Songs Lyrics,Bhajan Lyrics Hindi,Song Lyrics,bhajan lyrics,ytkrishnabhakti,bhajan hindi me,hindi me bhajan,hamke gokul v barsana braj chahi bhajan,hamke gokul v barsana braj chahi hindi bhajan,morning bhajan,newest bhajan,kahani,story,trending wale bhajan,hamke gokul v barsana braj chahi trending bhajan,hamke gokul v barsana braj chahi hindi lyrics,hamke gokul v barsana braj chahi in hindi lyrics,hamke gokul v barsana braj chahi hindi me bhajan,hamke gokul v barsana braj chahi likhe hue bhajan,hamke gokul v barsana braj chahi lyrics in hindi,hamke gokul v barsana braj chahi hindi lyrics,hamke gokul v barsana braj chahi lyrics.


Note :- वेबसाइट को और बेहतर बनाने हेतु अपने कीमती सुझाव नीचे कॉमेंट बॉक्स में लिखें व इस ज्ञानवर्धक ख़जाने को अपनें मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें।

Leave a comment

आपको भजन कैसा लगा हमे कॉमेंट करे। और आप अपने भजनों को हम तक भी भेज सकते है। 🚩 जय श्री राम 🚩

Previous Post Next Post
×