जरा इतना बता दे कान्हा लिरिक्स Jara Itna Bata De Kanha Lyrics

जरा इतना बता दे कान्हा लिरिक्स Jara Itna Bata De Kanha Lyrics Krishna Bhajan



ज़रा इतना बता दे कान्हा, तेरा रंग काला क्यों,
तू काला होकर भी जग से निराला क्यों॥

मैंने काली रात को जन्म लिया,
और काली गाय का दूध पीया,
मेरी कमली भी काली है,
इस लिए काला हूँ,
ज़रा इतना बता दे….

सखी रोज़ ही घर में बुलाती है,
और माखन बहुत खिलाती है,
सखिओं का भी दिल काला,
इस लिए काला हूँ,
ज़रा इतना बता दे….

मैंने काली नाग पर नाच किया,
और काली नाग को नाथ लिया,
नागों का रंग काला,
इस लिए काला हूँ,
ज़रा इतना बता दे….

सावन में बिजली कड़कती है,
बादल भी बहुत बरसतें है,
बादल का रंग काला,
इसलिए काला हूँ,
ज़रा इतना बता दे….

सखी नयनों में कजरा लगाती है,
और नयनों में मुझे बिठाती है,
कजरे का रंग काला,
इसलिए काला हूँ,
ज़रा इतना बता दे कान्हा....



श्रेणी : कृष्ण भजन



जरा इतना बता दे कान्हा तेरा रंग काला क्यूँ | Jara Itna Bata De Kanha | Upasana Mehta |Krishna Bhajan

जरा इतना बता दे कान्हा लिरिक्स Jara Itna Bata De Kanha Lyrics, Krishna Bhajan Singer by Upsana Metha

Bhajan Tags: Lyrics in hindi,bhajan lyrics,ytkrishnabhakti,bhajan hindi me,hindi me bhajan,aarti,khatu shyam bhajan,lyrics hindi me,naye naye bhajan,bhajan dairy,bhajan ganga,bhajano ke bol,nay nay bhajan,bhajan in hindi lyrics,jara itna bata de kanha,jara itna bata de kanha tera rang ala kyu,jara itna bata de kanha lyrics,jara itna bata de kanha bhajan,Krishna Bhajan,jara itna bata de kanha in hindi.


Note :- वेबसाइट को और बेहतर बनाने हेतु अपने कीमती सुझाव नीचे कॉमेंट बॉक्स में लिखें व इस ज्ञानवर्धक ख़जाने को अपनें मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें।
Reactions

Post a Comment

1 Comments